Breaking News

विश्व को ही परिवार समझाने वाले नाथ समाज की सदैव हुई अनदेखी : अनूप जोगी

अखिल भारतवर्षीय नाथ समाज का राज्य स्तरीय सम्मान समारोह राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय महम में सम्पन्न हुआ। इस कार्यक्रम में नाथ समाज के प्रतिनिधि हरियाणा के सभी 22 जिलों से पहुंचे व समुदाय की एकता अखण्डता पर विचार रखे। कार्यक्रम में मुख्यातिथि के रूप में डा. बलवान सिंह चेयरमैन विमुक्त एवं घुमन्तु आयोग ने शिरकत की। कार्यक्रम की अध्यक्षता बलवंत जोगी संरक्षक जोगी समाज रहे। मंच संचालन राष्ट्रीय उपाध्यक्ष इंद्र ङ्क्षसह जोगी व वेद जोगी द्वारा संयुक्त रूप से किया गया। प्रदेश अध्यक्ष अनूप जोगी कार्यक्रम में पहुंचे सभी नाथ संप्रदाय के लोगों को होली की बधाई दी और नाथ संप्रदाय के इतिहास व प्रतिभाओं के बारे में अवगत करवाया। उन्होंने कहा कि नाथ संप्रदाय विश्व भर में फैला हुआ है, जिसका श्रेय भगवान नाथ शिरोमणि गुरु गोरक्षनाथ जी को जाता है। जिन्होंने अपने योग और तपोबल से दुनिया को दिखा दिया कि नाथ संप्रदाय से न कोई बड़ा है न कोई होगा। मां ज्वाला देवी का वर्णन पढऩे से पता चलता है कि नेपाल का तप गुरु जी की महिमा का ज्ञान सागर बना। गोरखपुर तपस्थली बनी, गोरक्ष टीला जहां पर करोड़ों लोग अपनी मन्नत पूरी होने पर छड़ी चढ़ाते हैं। नाथ/जोगी हमेशा शांत रहे हैं और अपने शरीर पर कष्ट उठाकर समाज व विश्व का हित करते रहे हैं। अनेक सिद्धियां और ज्ञान सागर होने होते हुए भी हमेशा एक स्थान से दूसरे स्थान पर जनकल्याण करते रहे हैं। जनकल्याण करते-करते और विश्व को अपना परिवार मानने वाले नाथ संप्रदाय के लोग आज गरीबी रेखा से भी नीचे रह रहे हैं। किसी भी सरकार ने इस समाज की तरफ ध्यान नहीं दिया और नाथ संप्रदाय की सदैव अनदेखी हुई है। अनूप जोगी ने कहा कि नाथ संप्रदाय ने आज एकता और जागरूकता आ चुकी हे और जिसके परिणामस्वरूप नाथ समाज ने अपनी दिव्य अलख जगाई है तथा समाज को घुमन्तु जातियों के वर्ग में शामिल करने की एकमात्र मांग उठाई है जिसके वह सदैव पात्र हैं। 

About Team | NewsPatrolling

Comments are closed.

Scroll To Top