Follow my blog with Bloglovin
Saturday , 19 August 2017
Breaking News

राजधानी पटना में दिनदहाड़े पति पत्नी की हत्या

सरकार लाख दावे कर ले की  बिहार में कानून का राज है लेकिन अपराधियो ने सरकार के दावों की पोल खोल कर रख दी

ताजा मामला राजधानी पटना से सटे नौबतपुर थाना क्षेत्र के फरीदपुरा गांव का है जहा दिन दहाडे  जमीनी विवाद को लेकर  भतीजा ने अपने ही चाचा  विश्वनाथ उपाध्याय 60 वर्ष  और चाची  कुसुम देवी  55 वर्ष को गोली मारकर हत्या कर दिया । इस घटना को लेकर पूरे गाव मे खली बली मच गयी है। दस वर्ष पूर्व  इसी जमीनी विवाद मेचाचा विश्वनाथ के पुत्र  की हत्या हो चुकी है इस हत्या के मामले मे विश्वनाथ  गवाह था। , दोनों डेड बॉडी अभी उसके घर पे ही है , वहां पुलिस मौजूद है ,अन्य परिवार व रिश्तेदारों का इंतेजार किया जा रहा है। घटना केबाद एएसीपी राकेश कुमार   घटना स्थल पर पहूचं कर जांच शुरू कर दिया है । 

भतीजे सुनिल उपाध्याय  और चाचा विश्वनाथ पाध्याय के बीच  पंद्रह वर्ष से जमीनी विवाद चल रहा है ।इसी जमीनी विवाद मे दस वर्षपूर्व  विश्वनाथ उपाध्याय के पुत्र उमापति की हत्या होचुकी थी । इस हत्या के मामले सुनिल उपाघ्याय को अभियुक्त बनाया गया ह।  भतीजा सुनिल उपाध्याय  अपनेही चाचा विश्वनाथ पर बराबर दबाव डालता रहता था कि गवाही से मुकर जायेन ही तो जाने से मारने की धमकी भी देता रहता था।  मृतक विश्वनाथ और उनकी पत्नी  दोनो घर मे अकेले रहतेथे । भतीजा सुनिल के डर से वह अपनेदोनो बेटो को बाहर भेज दिया था। 

 मृतक का एक पुत्र सभापति  गांव पहुंच कर  आरोप लगाया है की इसी गांव के श्रीकांत शर्मा और उसके पुत्र,समेत मृतक का सगा भतीजा सुनील उपाध्याय ने हत्त्याकांड को अंजाम दिया है , अब लाश को पोस्टमार्टम के लिए भेजने की कार्रवाई की जारही है । हत्या की वारदात के बाद हत्त्यारे फरार हो चुके पुलिस ने घटना स्थल से चार खोखा बरामद किया है। एएसीपी राकेश कुमार ने बताया कि प्रथम दृष्टिया से हत्या के पीछे जमीनी विवाद प्रतीत होता है ।पुलिस हर बिन्दुओ पर तहकीकात कर रही है। अभियुक्त की गिरफ्तारी केलिए छापेमारी की जा रही है

Comments are closed.

Scroll To Top
badge