Follow my blog with Bloglovin
Thursday , 19 July 2018
Breaking News

4-6 महीने के अंदर भारत के अन्य 7 राज्यों में ‘गो सोलर’ से उम्मीदः प्राणेश चैधरी

ज़नरूफ (zunroof) की सफलता के लिए अध्यय व प्रयास
 
ज़नरूफ  की पूरी टीम को आईआईआई छात्रों से बनी है जो बहुत प्रतिभाशाली है और जिनके पास 25 वर्षों से अधिक का अनुभव है, जिन्होंने अलग अलग सेक्टर में काम किया है जैसे कि फाइनेंनशियल सर्विस, कंस्ट्रक्शन मैनेजमेंट से लेकर पावर प्रोडक्ट की आर एंड डी तक। ऐसे बैकग्राउंड के साथ, हमने 2016 के पहले तीन महीने से ही अपना ऐप और हार्डवेयर बनाना शुरू किया है। उसी समय, हमने रेसिडेंशियल और एसएमई रूफ ऑनरों की बिजली-संबंधित समस्याओं के बारे में उनसे बात करना शुरू किया था ताकि हम उनकी समस्याएं समझ सकें।
 
आकर्षक कॉर्पोरेट और कंसलटिंग जॉब छोड़ने के बाद, हमने करीब 6 महीने तक व्याख्यातमक वीडियो, मार्केटिंग सामग्री के साथ ही साथ हमारी सोलर इंस्टॉलेशन की अनोखी तकनीक को भी तैयार किया। इस दौरान हम आगे बढ़े और हमने विक्रेताओं और खरीद भागीदारों से औपचारिकताएं की ताकि हम अपनी लागत को कम कर सकें और हमारे क्लाइंट को इंजीनियरिंग का लाभ मिले।
 
ऐप के माध्यम से समस्याएं निवारण
हमारे ऐप को डिजाइन और डिलीवरी वर्टिकल में विभाजित किया जा सकता है  इस ऐप को बनाने का लक्ष्य पूरी गोइंग सोलर प्रकिया को रेसिडेंशियल और एसएमई रूफटॉप मालिकों के लिए कुछ ही क्लिक तक सीमित करना है। यह ऐप आपको बिजली के बिल का विस्तृत विश्लेषण देता है, और बताता है कि सोलर इंस्टॉलेशन के बाद आपकी छत कैसी दिखेगी। यह ऐप हमारे इंजीनियर्स को शेडो एनालेसिस करने देता है ताकि उन्हें आपकी छत पर सोलर इंस्टॉलेशन करने के लिए उपयुक्त जगह मिले।
 
फिर, यह ऐप क्लाइंट को उनका सिस्टम डिलीवर होते समय सभी डिलवरी अपडेट देता है। इस ऐप का दूसरा सबसे महत्वपूर्ण भाग इंस्टॉलेशन होने के बाद तब काम आता है जब ऐप सोलर उत्पादन के नोटिफिकेशन और चार्ट प्रदान करता है। यह सोलर हेतु आपका निवेश डैशबोर्ड बन जाता है।
 
ज़नरूफ के प्लान ऑफ एक्शन और स्ट्रेटेजिक विजन
 
प्राणेश चैधरी के अनुसार ज़नरूफ  को ग्राहकों के लिए सिंगल सबसे बड़े क्लीन-टेक ब्रांड के रूप में देखते हैं – उर्जा या बिजली से संबंधित किसी भी समस्या को हम सुलझाएंगे । हमने खाली पड़ी घरों की छतों का उपयोग सोलर इंस्टॉलेशन के लिए करना शुरू किया है और हम यह ग्राहकों की समस्याएं समझते हैं, हम उनके लिए सॉफ्टवेयर और हार्डवेयर समाधान लाते रहेंगे।
 
ज़नरूफ  के लिए प्रेरणा
 
अपने किशोरावस्था तक बिहार के एक छोटे से शहर में जन्मे और बड़े होते हुए जहां सीमित साधन थे, मुझे मेरे जीवन के दो पहलू बहुत ही स्पष्ट थे – एक, दुनिया में अपनी राह बनाना (इसलिए उद्यमिता) और दूसरा, जब बिजली कई घंटो के बाद वापस आती है तो हर कोई खुश हो जाता है, इसलिए बिजली उर्जा हमारे जीवन में बहुत महत्वपूर्ण है (इसलिए बिजली समस्यों को सुलझा रहे हैं)।
 
इसलिए, जब सुशांत (10 वर्षो से मेरे मित्र व आईआईटी खड़गपुर के बैचमेट जिनके पास सोलर और उत्पाद विकास का बहुत अनुभव है) और मैंने हमारी उद्यमिता की योजना बनाना शुरू किया तो हमें इस बारे में कुछ पता नहीं था। हमें दुनिया को बेहतर बनाने की जरूरत है जबकि हम यहां हैं हमें दुनिया को पहले से कहीं बेहतर बनाना होगा- ज़नरूफ   ने हमें यह दोनों काम करने दिया है क्योंकि हमारा एक किलो वॉट का इंस्टॉलेशन 154 पेड़ों को लगाने के बराबर है।
 
प्रोफेशनल जिंदगी में संतुष्टि
 
जब मुझे लगता है कि मैं किसी चीज में सकारात्मक सहयोग देकर उसका मूल्य बढ़ा रहा हूं मैं प्रोफेशनल कैपेसिटी से यह कार्य कर रहा हूं (यह कोई उत्पादक विकास, बिजनेस डील, क्लाइंट की ऑन-बोर्डिंग या किसी साथी का अप्रेजल हो सकता है), तब मुझे अच्छा लगता है और चैन की नींद आती है। जब मैं अपने साथी को अगले लेवल पर ले जाने के लिए सक्षम होता हूं, किसी की प्रोफेशनल उपलब्धि का साक्षी बनकर या उसका एक हिस्सा बनकर भी मुझे संतुष्टि होती है।
 
 
अन्य ऐप की तुलना में ज़नरूफ ऐप
सोलर सिगमेंट में कोई ऐप नहीं आया है, हमारे ऐप तकनीकी रूप से अपडेटेड है। वीआर, ईमेज प्रोसेसिंग, एनालेटिक्स, आईओटी दृ ये सभी शब्द हमारे लिए सहज है, वास्तव में यही सब प्रतिस्पर्धी टेक समाधान हैं जो हमने अपने ऐप में शामिल किए हैं। हमारे ऑपरेशन पूरी तरह से ऑटोमेटेड भी हैं हमारे इंटरनेल ऐप के साथ हम स्पीड और न्यूनतम लीकेज रिस्क का पता लगाने में सक्षम है।
 
ऐप विकसित करने की प्रेरणा
सभी रेसिडेंशियल और एसएमई क्लाइंट की सोलर रूफटॉप समस्याओं को सुलझाना, कुछ ही क्लिक्स में एंड टू एंड क्लाइंट अनुभव को ऑटोमेशन प्रदान करना।
 
प्रोजेक्ट की सफलता से उम्मीद
100 प्रतिशत – हम तेजी से बढ़ रहे हैं और पूरी दुनिया में कई अनटैप्ड रूफटॉप हैं और ऐसे ग्राहक हैं जिन्हें बिजली की समस्याओं का समाधान चाहिए
 
प्रोजेक्ट पर बैकेंड और फ्रंट के टीम सदस्य
 
हम तेजी से बढ़ रहे हैं और 2018 की शुरूआत में 20-सदस्यों की टीम के साथ, अब हम 70 से अधिक है जो अलग अलग कार्यो में लगे हैं
 
सर्वाधिक रिस्पॉंस देने वाला क्षेत्र
 
हमने दिल्ली एनसीआर से अपना काम शुरू किया था और हम इस क्षेत्र के प्रत्येक शहर मे मार्केट लीडर बन रहे हैं। 4-6 महिने के अंदर ही हमें उम्मीद है कि भारत के अन्य 7 राज्यों में हम ऐसे ही आगे बढ़ेंगे।
 

Leave a Reply

Scroll To Top
badge