Follow my blog with Bloglovin
Friday , 19 October 2018
Breaking News

नेता बनने से पहले क्या क्या करना

चाहो  जो  तुम  खूब  कमाना  –  देश  विदेश  में  आना  जाना
सरकारी  पैसा  मौज  उड़ाना  –  मंत्री  बन  फिर  धौंस  जमाना
सब  होगा,  नेताओं  के  तलवे  चाट  अगर  लो
बस  जराजी  हुजूरी  कर  लो

चाहो  अगर  तुम  चाँद  पे  चढ़ना  –  जिन्दगी  में  आगे  बढ़ना
भरपूर  जो  चाहो  तरक्की  करना  –  न  चाहो  कभी  एडियाँ  रगड़ना
तो  तुम  भी  जानवरों  का  चारा  चर  लो
बस  जराजी  हुजूरी  कर  लो

चाहो  जो  तुम  कमजोर  दबाना  –  उस  पर  अपनी  ताकत  आजमाना
पुलिस  को  थोड़ा  पैसा  खिलाना  –  फिर  थाने  में  उसे  पिटवाना
चाहो  तो  फिर  उसकी  गर्दन  धर  लो
बस  जराजी  हुजूरी  कर  लो

काम  को  समझो  सदा  हराम  –  चाहो  जो  तुम  एशो-आराम
लगा  देना  तुम  सभी  का  दाम  –  रहीम  बिके  या  फिर  राम
तिकड़म  लड़ाओ  कुछ  भी,  पर  तुम  अपनी  जेबें  भर  लो
बस  जराजी  हुजूरी  कर  लो

ये  सब  कुछ  करने  के  बाद  जब  नेता  बन  जाओ  तब  क्या  करना:-

स्विस  बैंक  में  खोलना
तुम  अलग  से  अपना  खाता
चोर  विदेशी  हो  या  देसी
होता  है  सबका  नाता

कलमाड़ी  ओर  राजा  से
तुम  लेते  रहना  सीख
जो  पकड़े  जाते  हैं  बस
वही  मांगते  भीख

तुम  न  पकड़े  जाना  भैया
चलाना  ऐसा  चक्कर
बन्दर  बन  सब  हड़प  लेना
बिल्लियों  को  हो  जाये  टक्कर

ऐसे  काम  करना  तुम
हर  कोई  हो  हक्का-  बक्का
फिर  खुद  ही  करवा  देना  तुम
जाम  सड़क  पर  चक्का

तू-तड़ाक  जिनको  है  कहना
उनको  बोलो  आप
लाठी  बस  पीटते  रहो
भाग  जाए  जब  सांप

माला  उन्हें  तुम  पहना  देना
पड़नी  चाहिए  जिन्हें  लात
अपने  पक्ष  में  कर  लेना
तुम  सारे  हालात

शक्ल  न  जिसकी  देखनी  थी
उससे  भी  करना  बात
मौक़ा  देख  कर  दे  देना
शै,  और  फिर  मात

घोटाले  तुम  कर  लेना
कई-कई  एक  साथ
क्या  पता  आये  फिर  कब
मौक़ा  फिर  ये  हाथ

दोस्तों  को  दगा  तुम  दे  देना
दुश्मन  का  निभाना  साथ
फिर  दुश्मन  को  भी  मत  छोड़ना
जब  बदल  जाएँ  हालात

सिस्टम  में  जाकर  कर  देना
सिस्टम  को  अस्त  ओर  व्यस्त
देश  कराये  ऐसी  की  तैसी
तुम  रहना  अपने  में  मस्त

 

Author: Gurchan Mehta

Comments are closed.

Scroll To Top
badge