Breaking News

टीयर III और IV शहरों में MSME ऋण और हाउसिंग फाइनेंस की मांग का दायरा लगातार बढ़ रहा है – कॅप्री ग्लोबल कॅपिटल लिमिटेड के एमडी, श्री राजेश शर्मा

मौजूदा वित्त वर्ष के दौरान लोन के वितरण में 10% -12% की वृद्धि का लक्ष्य 

नई दिल्ली, 5 अक्टूबर, 2020: MSME ऋण और हाउसिंग फाइनेंस के क्षेत्र में कार्यरत एक विविधतापूर्ण NBFC, कॅप्री ग्लोबल कॅपिटल लिमिटेड (CGCL) ने विशेष रूप से टीयर III और टीयर IV शहरों में MSME तथा किफायती आवास क्षेत्र में लोन में वृद्धि दर्ज की है। CGCL ने अगस्त – सितंबर महीने के दौरान लोन के वितरण में बढ़ोतरी देखी है, जो वित्त-वर्ष 19 के आंकड़ों के बराबर है। अर्ध-शहरी एवं ग्रामीण इलाकों में लोन में बढ़ोतरी के साथ, CGCL को इस बात का पूरा भरोसा है कि मौजूदा वित्त-वर्ष में लोन के वितरण में 10% -12% वृद्धि के लक्ष्य को हासिल करना बेहद आसान होगा।

इस क्षेत्र में प्रगति के मौजूदा संकेतों पर अपने विचार व्यक्त करते हुए कॅप्री ग्लोबल कॅपिटल लिमिटेड के मैनेजिंग डायरेक्टरश्री राजेश शर्मा ने कहा, “फिलहाल हम देख रहे हैं कि देश की अर्थव्यवस्था धीरे-धीरे अग्रसर हो रहा है । लॉकडाउन के प्रतिबंधों में छूट दिए जाने की वजह से अर्ध-शहरी एवं ग्रामीण इलाकों में लोन की मांग धीरे-धीरे बढ़ रही है, साथ ही कलेक्शन भी पहले से बेहतर हुआ है। पिछले महीने हमारे लोन का वितरण कोविड-19 से पहले के स्तर तक पहुंच गया और हम देख रहे हैं कि इस स्थिति में लगातार सुधार हो रहा है। हमारा मानना है कि, मजबूत बैलेंस शीट और पर्याप्त नगद राशि की उपलब्धता वाले NBFCs को लंबे समय में फायदा मिलेगा। कॅप्री में, हमारे पास नगद राशि की उपलब्धता पर्याप्त है और पिछले चार महीनों के दौरान हमें बहुत अधिक क्रेडिट लाइन्स मिलीं, जिसका उपयोग हमने ऋण के पूर्व-भुगतान के लिए किया और इस वजह से हम लोन के लिए बेहतर शर्तों पर बातचीत में सक्षम हुए।”

उन्होंने आगे बताया कि, “इंफ्रास्ट्रक्चर फाइनेंस, महंगी वस्तुओं पर लिए जाने वाले लोन और होलसेल फाइनेंस जैसे दूसरे सेक्टर अभी भी थोड़े दबाव में हैं।”

कलेक्शन

पिछले छह महीनों के दौरान, CGCL ने MSME और होम लोन सेगमेंट, दोनों क्षेत्रों के कलेक्शन में शानदार बढ़ोतरी दर्ज की है। इन सब में CGCL के MSME ग्राहक तथा होम लोन लेने वालों में से लगभग 40% लोग पिछले छह महीनों से मासिक EMIs का नियमित रूप से भुगतान कर रहे हैं, जबकि सिर्फ 6% ग्राहकों को लगातार EMIs के हर महीने भुगतान में चुनौतियों का सामना करना पड़ा।

परिचालन की खास बातें

  • CGCL MSME और होम लोन के लिए सुरक्षित ऋण के कारोबार में संलग्न है, और कंपनी ने NPA में अधिकतम 1% से 2% तक बढ़ोतरी की उम्मीद जताई है

MSME

  • मॉरटोरियम 1.0 के 53% की तुलना में, मॉरटोरियम 2.0 के तहत कंपनी का MSME लोन सिर्फ 37% था
  • ग्राहकों की ओर से लोन को नए सिरे से व्यवस्थित करने के लिए अधिक आवेदन प्राप्त नहीं हुए हैं, लिहाजा अगले 2 – 4 महीनों के दौरान कंपनी को न्यूनतम प्रभाव की उम्मीद है
  • टीयर III और टीयर IV शहरों में MSME गतिविधियों में बढ़ोतरी हुई है

हाउसिंग लोन

  • मॉरटोरियम 1.0 के 33% की तुलना में, मॉरटोरियम 2.0 के तहत कंपनी के होम लोन मॉरटोरियम की दर सिर्फ 27% थी
  • टीयर III और टीयर IV शहरों में होम लोन की मांग काफी अधिक है, और गौरतलब है कि CGCL किफायती आवास सेगमेंट में लोगों को होम लोन देता है जहां घर की कीमत 30-35 लाख रुपये से कम होती है
  • CGCL ग्राहकों द्वारा जमीन पर खुद से घर निर्माण के साथ-साथ रहने के लिए पूरी तरह तैयार प्रॉपर्टी के लिए होम लोन की बढ़ती आवश्यकता को प्रत्यक्ष तौर पर देख रहा है
  • मांग में बढ़ोतरी इस वजह से हुई है क्योंकि लोगों ने कोविड-19 के दौर में अपने घर के मालिक होने की आवश्यकता महसूस की है तथा वे फिलहाल होम लोन की बेहद कम दरों का लाभ उठाना चाहते हैं, जिसमें पिछले 6 महीनों के दौरान 150 आधार अंकों की कमी आई है

About Admin

newspatrolling

Comments are closed.

Scroll To Top